स्पेशल सेल ने अनिल दुजाना के शार्प शूटर को तमिलनाडु से गिरफ्तार (04पीआर41ओआई)

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अनिल दुजाना व रणदीप भाटी गैंग के शार्प शूटर को तमिलनाडु के वेल्लोर से गिरफ्तार किया है। शार्प शूटर की पहचान गाजियाबाद की खोड़ा कॉलोनी निवासी अरविंद कुमार के रूप में हुई है।


बदमाश पर ५० हजार रुपये का इनाम घोषित था। उसके खिलाफ दिल्ली व उत्तर प्रदेश में ११ आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस उपायुक्त प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि न्यू अशोक नगर इलाके में संदीप नागर पर गोलीबारी के मामले में अरविंद कुमार की पुलिस को तलाश थी। जांच में पता चला कि संदीप चमन भाटी का भतीजा है


और गौतमबुद्ध नगर के दनकौर में हुई चमन भाटी की हत्या का वह चश्मदीद गवाह है। इस मामले में अरविंद शामिल था और पुलिस ने उस पर पचास हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था।


पुलिस को सूचना मिली है कि अरविंद तमिलनाडु के वेल्लोर में छिपकर रह रहा है। पुलिस की एक टीम को वेल्लोर के लिए रवाना किया। वहां रहकर पुलिस ने अरविंद के बारे में जानकारी हासिल की और उसे वेल्लोर किला के पास से गिरफ्तार किया है।


अरविंद ने पूछताछ में बताया कि उसने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर वर्ष २०१३ में संतोष गुप्ता की हत्या की थी। इस मामले में वह दो साल तक जेल में रहा। जेल से निकलने के बाद वह अनिल दुजाना-रणदीप भाटी के गैंग में शामिल हो गया।


संदीप नागर को मारने के लिए उसे दो लाख की सुपारी मिली थी। उसने बताया कि संदीप नागर पर गोलियां चलाने के बाद वह भाग रहा था। इस दौरान अलीगढ़ के टप्पल में बचने के लिए उसने पुलिस टीम पर गोली चलाई थी।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली