पुतिन ने डॉलर की भूमिका पर फिर से विचार करने का किया आह्वान


सेंट पीटर्सबर्ग। पिछले कुछ दिनों में रुस और अमेरिका के रिश्तों में कुछ तनाव देखने में मिला है। इसी कड़ी में अब रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने वैश्विक व्यापार में डॉलर की भूमिका पर फिर से विचार करने का आह्वान किया।


इसके साथ ही पुतिन ने अमेरिका पर आरोप लगाया कि वह दुनिया पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ आर्थिक मंच की बैठक को संबोधित करते हुए पुतिन ने बड़े सुधारों की बात की और कहा कि डॉलर पर विश्वास घट रहा है।


पुतिन ने कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में बदलाव ने अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संगठनों को अपनाए जाने और डॉलर की भूमिका पर पुनर्विचार का आह्वान किया है डॉलर का मुद्दा पूरी दूनिया पर दबाव बनाने का जरिया बन गया है। कई बार अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना कर चुके रूस के प्रमुख पुतिन बार-बार द्वितीय विश्व युद्ध के बाद स्थापित की गयी वैश्विक वित्तीय प्रणाली की मुखर आलोचना करते रहे हैं।


उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए पुतिन ने अमेरिका पर अपने अधिकार क्षेत्र को पूरी दुनिया तक विस्तारित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यह व्यवस्था ना केवल सामान्य अंतरराष्ट्रीय संवाद के तर्क से विरोधाभास रखती है बल्कि भविष्य के हितों की पैरवी भी नहीं करती।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली