(बस्ती) चीनी मिल यूनियन, आंगनवाडी कार्यकत्रियों ने धरना देकर राज्यपाल को भेजा 5 सूत्रीय ज्ञापन


बस्ती। बुधवार को  चीनी मिल मजदूर यूनियन, आंगनवाडी श्रम संगठन के   पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं, आंगनवाडी


कार्यकत्रियों ने 5 सूत्रीय मांगो को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी केे प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। मांग किया कि मुण्डेरवा चीनी मिल के पुराने श्रमिकों का समायोजन करने के साथ ही आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के बढे मानदेय का भुगतान सुनिश्चित कराया जाय। 



धरने को सम्बोधित करते हुये एटक नेता का. अशर्फीलाल ने कहा कि मुण्डेरवा चीनी मिल के पूर्व कर्मचारियों का अधिकार है कि उनका समयोजन किया जाय। दुर्भाग्य से शासनादेश के बावजूद इसका पालन नहीं हो पा रहा है। मांग किया कि पुराने मिल श्रमिकों, दैनिक वेतनभोगी कर्मियों का समायोजन नये सत्र से पूर्व सुनिश्चित किया जाय। कहा कि 



चीनी मिल मजदूर यूनियन अध्यक्ष अतुल कुमार शुक्ल, मंत्री राधापति पाठक ने कहा कि लम्बी प्रतीक्षा संघर्षो के बाद मुण्डेरवा चीनी मिल चली ऐसे में पुराने श्रमिकों से उनका हक न छीना जाय। मिल में आउट सोर्सिंग से भर्ती की जा रही है जबकि पुराने श्रमिकों का समायोजन नहीं किया जा रहा है। यदि समस्या का शीघ्र हल न हुआ तो आन्दोलन छेडा जायेगा।
धरने को का. के.के. तिवारी, श्यामनोहर जायसवाल, रामलौट, सीमा जायसवाल आदि ने   सम्बोधित किया।



राज्यपाल को भेजे 5 सूत्रीय ज्ञापन में  मुण्डेरवा चीनी मिल के पुराने छटनीशुदा, बी.आर.एस.प्राप्त, सेवा निवृत्त कर्मियों की उपयोगिता के आधार पर विशेष सचिव उ.प्र. शासन चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग अनुभाग-2 द्वारा जारी शासनादेश के अनुरूप समायोजन किये जाने,  आंगनवाडी कार्यकत्रियों का मुख्य सेविका में प्रोन्नति में आयु सीमा समाप्त किये जाने,  आंगनवाडी कार्यकत्रियों के रिक्त पदों को आंगनवाड़ी सहायिकाओं से भरे जाने, उ.प्र. सरकार द्वारा फरवरी 2019 से बढ़े हुये मानदेय का  शासनादेश जारी कर भुगतान कराये जाने, आंगनवाडी कार्यकत्रियों एवं सहायिकाओं को पी.एफ. का लाभ सरकार की घोषणा के अनुरूप दिलाये जाने आदि की मांग शामिल है। 



धरने में उर्मिला देवी, पूर्णिमा, पूनम तिवारी, श्यामा देवी, राजू यादव, रास बिहारी पाण्डेय, कृष्णचन्द्र चौधरी, शिव कुमार पाण्डेय, संजय कुमार, भोलानाथ पाण्डेय, राम नरेश सिंह, श्यामा देवी, सुभावती, सुनीता, पुष्पलता, आशा देवी, फूल देवी, शिवमती देवी, जवाहर लाल, रामनयन, राम उजागिर, हजारीलाल, रमाकान्त मिश्र, रामगोपाल, मथुरा सिंह के साथ ही अनेक लोग उपस्थित रहे।


Popular posts