कश्मीरी लड़कियों पर खट्टर का बयान शर्मनाक

-  दर्ज होनी चाहिए रिपोर्ट : मालीवाल
नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के कश्मीर की लड़कियों को लेकर दिए गए बयान की निंदा की है।


स्वाति मालीवाल ने कहा मनोहर लाल खट्टर को अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सड़क छाप रोमियो की भाषा बोल रहे हैं। स्वाति मालीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कश्मीर के लोगों को विश्वास दिलाने का प्रयास कर रहे हैं कि पूरा देश एक साथ है, लेकिन एक नालायक मुख्यमंत्री अभद्र बातें बोलकर हिंसा भड़का रहा है। इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जानी चाहिए।



उल्लेखनीय है कि मनोहर लाल खट्टर ने शुक्रवार को कहा था कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब लड़कियों को शादी के लिए कश्मीर से लाया जा सकता है। खट्टर ने कहा कि हमारे मंत्री ओपी धनखड़ कहते थे कि बिहार से बहू लाएंगे, आजकल लोग कहने लगे हैं कश्मीर का रास्ता साफ हो गया है अब कश्मीर से लड़की लाएंगे।



फतेहाबाद में भगवान महर्षि भागीरथ जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के विषय पर चर्चा करते हुए हरियाणा में लिंगानुपात 933 होने का जिक्र किया। खट्टर ने लिंगानुपात गड़बड़ होने के कारण लड़कियों की कमी पर चर्चा करते हुए कहा कि हमारे मंत्री धनखड़ (हरियाणा के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़) पहले कहते थे कि बिहार से बहू लाएंगे लेकिन अब लोग कहते हैं कि कश्मीर का रास्ता बन गया है, अब कश्मीर से लड़की लाएंगे। मुख्यमंत्री खट्टर ने बाद में कहा कि उन्होंने यह बात मजाक में कही है।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली