पाक पीएम इमरान ने भारत के परमाणु हथियारों को लेकर दुनिया से सामने जाहिर किया डर

नई दिल्ली। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के ताजा बयान 'पहले परमाणु हमला ना करने की नीति' में परिस्थितियों के अनुसार बदलाव के ऐलान के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के परमाणु हथियारों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से ध्यान देने की अपील की। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने लगातार कई ट्वीट्स किए और भारत के परमाणु हथियारों को लेकर अपना डर जाहिर किया।



इमरान खान ने लिखा कि भारत के परमाणु हथियार का नियंत्रण फासीवादी मोदी सरकार के हाथ में है.. यह एक ऐसा मुद्दा है जिससे केवल क्षेत्र पर ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया पर इसका प्रभाव पड़ेगा। पाकिस्तानी पीएम इमरान खान का ये बयान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के 'पहले परमाणु हमला ना करने की नीति' में परिस्थितियों के अनुसार बदलाव के ऐलान के बाद आया है।


रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा था कि हमारी नीति रही है कि हम परमाणु हथियार का पहले प्रयोग नहीं करेंगे लेकिन आगे क्या होगा, यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है। इमरान खान एक बार फिर कश्मीर मुद्दे पर दुनिया का समर्थन मांगते नजर आए। इमरान ने कहा कि कश्मीर के हालात को देखते हुए अब तक खतरे की घंटियां बज जानी चाहिए थी और संयुक्त राष्ट्र के पर्यवेक्षक वहां भेजे जाने चाहिए थे।



इमरान ने हमेशा की तरह एक बार फिर मोदी सरकार की तुलना जर्मनी के नाजियों से की और आरोप लगाया कि कश्मीर में पिछले दो हफ्तों से 90 लाख मुस्लिम डर के साए में जी रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि भारत सरकार की नफरत की विचारधारा की वजह से ना केवल भारत के अल्पसंख्यक खौफ में हैं बल्कि पाकिस्तान के हिंदू अल्पसंख्यकों पर भी इसका प्रभाव पड़ रहा है।


बता दें कि 5 अगस्त को मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर के विशेषाधिकार से जुड़े अनुच्छेद-370 को बदलने के फैसले के बाद से पाकिस्तान लगातार बयानबाजी कर रहा है लेकिन अंतरराष्ट्रीय मंच या दुनिया के किसी भी देश से उसे कोई मदद हासिल नहीं हो पा रही है।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली