भोपाल, बारिश से मध्यप्रदेश में 10 से 15000 करोड़ का नुकसान

प्रारंभिक रिपोर्ट में मध्य प्रदेश सरकार केंद्र से मांगेगी 10,000 करोड़
भोपाल। मध्यप्रदेश में भारी बारिश से अभी तक प्रारंभिक रूप से 10 से 15000 करोड रुपए के नुकसान का आकलन किया गया है।


इसमें 8 से 10000 करोड़ का नुकसान फसलों के रूप में हुआ है। वहीं 5,000 करोड़ रुपए का नुकसान सड़क बांध मकान गिरने स्कूल एवं बाढ़ ग्रस्त लोगों को अन्य स्थानों पर पुनर्वास करने पर खर्च किया गया है।



मध्य प्रदेश सरकार ने सभी जिलों से नुकसानी की प्रारंभिक रिपोर्ट मंगाई है। उसके आधार पर मंगलवार को नुकसान की प्रारंभिक रिपोर्ट बनाकर केंद्र सरकार को भेजी जा रही है। मुख्य सचिव एसआर मोहंती के अनुसार राज्य में लगातार दो माह की बारिश से लगभग 20 जिलों में बाढ़ की हालत बनी रहे जिससे भारी नुकसान हुआ है।



सरदार सरोवर बांध की अधिक ऊंचाई के कारण मध्य प्रदेश के कई जिलों में बैक वाटर के कारण डूब की स्थिति बनी जिनका पुनर्वास किए जाने पर ही सरकार को करोड़ों रुपए डूब प्रभावित क्षेत्रों के लोगों को देना होगा गुजरात सरकार द्वारा डूब प्रभावित क्षेत्र के लोगों को पुनर्वास के लिए राशि नहीं दिए जाने के कारण हजारों परिवार पुनर्वास नहीं किए गए थे जो इस बाढ़ में प्रभावित हुए हैं।



केंद्र सरकार द्वारा मध्य प्रदेश को अभी तक कोई सहायता राशि उपलब्ध नहीं कराई गई है। मध्य प्रदेश सरकार इस संबंध में केंद्र सरकार से भी लगातार संपर्क स्थापित कर अति बारिश से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने और बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने के लिए केंद्रीय टीम को मध्यप्रदेश आकर निरीक्षण करने का अनुरोध कर रही है। किंतु केंद्र से अभी तक कोई भी सहायता नहीं मिली है। मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सभी जिलों से बुलाई गई रिपोर्ट के अनुसार प्रारंभिक नुकसानी का अनुमान केंद्र को भेजा जा रहा है।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली