दोस्त पत्थर फेंके तो फूल समझ लेना चाहिए : फडणवीस 


मुंबई। एक मीडिया समूह के आयोजन में शिरकत कर रहे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने जब पूछा गया


कि सिर्फ 44 साल की उम्र में वे सीएम। उस वक्त लोगों ने आलोचना की और आज वे महाराष्ट्र के सबसे बड़े नेता हैं? पर इस उन्होंने कहा, मैंने कोई जादू नहीं किया। मैं किसी भी अनकंफर्टेबल चेयर पर बैठ सकता हूं।
पीएम मोदी ने कहा था कि ऐसे आदमी को सीएम बनाओ। जो किसी सोशल इंजीनियरिंग में न बैठता हो। मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र की प्रतिमा को सुधारो। मैंने कभी राजनीति नहीं की। मुझे आती भी नहीं है। मैं सकारात्मकता के साथ काम करता रहा। जो पत्थर फेंकने वाले थे वो भी मेरे साथ आए। जब अपने दोस्त पत्थर फेंके तो उसे फूल समझ कर झेल लेना चाहिए।



उन्होंने कहा, कांग्रेस, एनसीपी के लोग भी हमारे पास आ रहे हैं। देश में पीएम नरेंद्र मोदी ने विश्वास का वातावरण बनाया है। लोगों को ऐसा लगता है कि मोदी के हाथ में ही देश का भविष्य है। जिस प्रकार से राहुल गांधी पार्टी चलाते हैं।


या एनसीपी की हालत है। ऐसे में 20-25 साल में ये खत्म हो जाएंगे। लेकिन भाजपा का भविष्य लोगों को दिख रहा है। कोई दूसरी पार्टियों में नहीं रहना चाहता। पहले भाजपा लोगों के पीछे जाती थी। लेकिन अब लोग पार्टी के पीछे आ रहे हैं। इसलिए हम आने वालों में से चुन-चुनकर अपने में लेते हैं।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली