लखनऊ, चंद्रयान-2 पर फूट-फूट कर रोये यूपी सरकार के मंत्री 

लखनऊ। चंद्रयान-2 के चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने से पहले ही लैंडर से संपर्क टूट गया।


इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बेंगलुरु स्थित इसरो मुख्यालय में मौजूद रहे। वहीं, चंद्रयान-2 पर बोलते हुए उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और बीजेपी नेता मोहसिन रजा भी भावुक हो गए। उन्होंने बताया कि जैसे ही चंद्रयान-2 से हमारा संपर्क टूटा, हमारे दिलों की धड़कनें तेज हो गईं और फूट- फूट कर रोने लगे।


जिसके बाद सुबह एक बार फिर वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु स्थित इसरो मुख्यालय पहुंचे। यहां वैज्ञानिकों को संबोधित करने के बाद जब प्रधानमंत्री मोदी इसरो मुख्यालय से जाने लगे तो इसरो चीफ के. सीवान पीएम मोदी के गले लगकर रोने लगे।


इस पर पीएम मोदी ने गले लगाकर इसरो चीफ की पीठ थपथपाते हुए उनका हौसला बढ़ाया।इस दौरान वैज्ञानिकों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम निश्चित रूप से सफल होंगे। इस मिशन के अगले प्रयास में भी और इसके बाद के हर प्रयास में भी कामयाबी हमारे साथ होगी।


उन्होंने कहा कि हर मुश्किल, हर संघर्ष, हर कठिनाई, हमें कुछ नया सिखाकर जाती है, कुछ नए आविष्कार, नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित करती है और इसी से हमारी आगे की सफलता तय होती हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि ज्ञान का अगर सबसे बड़ा शिक्षक कोई है, तो वो विज्ञान है। विज्ञान में विफलता नहीं होती, केवल प्रयोग और प्रयास होते हैं।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली