मौत के बाद डॉक्टरों ने बताया कारोबारी को गोली लगी थी (17पीआर34ओआई)

नई दिल्ली। शोरूम बंद करके स्कूटी से घर लौट रहे कारोबारी की लुटेरों ने हत्या कर दी।


आरोपी कथित तौर पर लूट के इरादे से आए थे और जब कारोबारी ने विरोध किया तो उसे गोली मार दी। हमलावर दो से अधिक बताए जा रहे हैं। कोई चश्मदीद न होने के कारण पुलिस स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कह रही है। ज्योति नगर पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 



  नॉर्थ ईस्ट डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या का कहना है कि कारोबारी को उनके घर के पास ही गोली मारी गई। गोली की आवाज तो किसी ने नहीं सुनी, लेकिन अस्पताल में डॉक्टरों ने शरीर में गोली लगने की बात कही। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि, कारोबारी राजुल गुप्ता (44) परिवार के साथ ज्योति नगर में रहते थे। उनकी जॉइंट फैमिली है और पत्नी व बेटी के अलावा दो अन्य भाइयों का परिवार भी साथ रहता है। पुलिस को घटनास्थल से कोई जानकारी नहीं मिली।


पहले लगा कि घर के पास हादसा हुआ, जिसके चलते पुलिस को बताए बिना परिजन घायल राजुल को अस्पताल लेकर गए। डॉक्टरों ने बताया कि उनकी मौत हो चुकी है। जांच में सामने आया कि राजुल की श्रीबालाजी इंटरप्राइजेज नाम से इलेक्ट्रॉनिक शोरूम है और वह सोमवार रात शोरूम बंद करके लौट रहे थे। घर के पास बाइक सवार बदमाश पहुंच गए। बदमाशों ने लूटपाट की कोशिश की और जब उन्होंने विरोध किया तो बदमाशों ने उनकी पिटाई कर दी।


पीछे से बदमाश ने गोली मारी, क्योंकि गोली कंधे पर पीछे की तरफ से लगी है। इसके बाद बदमाश गले से चेन तोड़कर फरार हो गए। पुलिस लूट के इरादे से संतुष्ट नहीं हो पा रही है क्योंकि बदमाशों ने चेन के अलावा किसी सामान को हाथ नहीं लगाया। पुलिस का कहना है कि राजुल के पास मोबाइल, पर्स के अलावा बैग था। सारा सामान राजुल के पास से बरामद हो गया, लेकिन परिजनों ने बताया कि सोने की चेन गायब है। परिजनों के बयान के बाद पुलिस लूट के लिए हत्या करने के एंगल से मामले की जांच कर रही है, हालांकि दूसरे एंगल को नजरअंदाज नहीं किया जा रहा है।


Popular posts from this blog

डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ताज महल को एक दिन के लिए जनता के लिए बंद कर दिया गया

चाईना पर सर्जिकल स्ट्राईक कब ... डा. शेख

सेक्टर के लिए सरकार की 4,558 करोड़ की योजना पर डेयरी फर्मों की रैली